delhi

आज से मेट्रो में सफर करना हुआ महंगा

अधिकतम किराया हुआ 60 रुपए,आज से मेट्रो में सफर करना हुआ महंगा

देश की राजधानी दिल्ली वालों को आज (10 अक्टूबर) से मेट्रो में सफर करने के लिए ज्यादा खर्च करने होंगे. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के लाख मना करने के बाद भी डीएमआरसी ने किराया बढ़ोत्तरी का फैसला नहीं बदला है.

देश की राजधानी दिल्ली वालों को आज (10 अक्टूबर) से मेट्रो में सफर करने के लिए ज्यादा खर्च करने होंगे. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के लाख मना करने के बाद भी डीएमआरसी ने किराया बढ़ोत्तरी का फैसला नहीं बदला है. आज से मेट्रो के किराए में 20 से 33 प्रतिशत की बढ़ोतरी हो गई है. पहले चरण में किराया बढ़ने के बाद मेट्रो यात्रियों की संख्या कम हो गई थी. बावजूद इसके डीएमआरसी ने मेट्रो के किराए में फिर से वृद्धि की है. फिलहाल न्यूनतम किराया 10 रुपये और अधिकतम 50 रुपये निर्धारित है, लेकिन एक अक्टूबर से अधिकतम किराया बढ़कर 60 रुपये हो गया है.

डीएमआरसी की जानकारी के अनुसार, मेट्रो में सफर के लिए अब 2 किलोमीटर तक के लिए 10 रुपये, 2 से 5 तक के लिए 20 रुपये देने होंगे. पहले 5 किमी के लिए 15 रुपये देने पड़ते थे. इसी तरह 5 से 12 किमी तक के लिए अब 20 रुपये की जगह 30 रुपये देने होंगे. स्मार्ट कार्ड का इस्तेमाल करने वाले यात्रियों को प्रत्येक यात्रा पर दस फीसदी की छूट मिलती रहेगी। डीएमआरसी के अनुमान के अनुसार मेट्रो के कुल यात्रियों में से 70 फीसदी स्मार्ट कार्ड उपभोक्ता हैं.

12 से 21 किलोमीटर तक के लिए पहले 30 रुपये किराया लगता था. लेकिन इसमें अब 10 रुपये बढ़ जाएंगे, जिसके बाद आपको 40 रुपये का भुगतान करना होगा. 21 से 32 किमी के लिए भी दरें बढ़ गई हैं. इस दूरी के लिए अब 40 रुपये की जगह 50 रुपये देने होंगे. यदि आप 32 किलोमीटर से ज्यादा का सफर करते हैं तो इस सूरत में आपको 60 रुपये किराए के रूप में देने होंगे. ये राशि पहले 50 रुपये थी.

चर्चा से पहले भाजपा विधायकों को सदन से मार्शल ने निकाला

दिल्ली मेट्रो के किराये में प्रस्तावित वृद्धि पर दिल्ली विधानसभा में सोमवार को चर्चा की शुरूआत हंगामेदार रही. भाजपा के दो विधायकों को सदन से मार्शल द्वारा बाहर निकाल दिया गया जो हाल में अतिथि शिक्षकों पर एक चर्चा के दौरान कथित रूप से ‘अभद्र भाषा’ इस्तेमाल के पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से माफी की मांग कर रहे थे.

विधानसभाध्यक्ष राम निवास गोयल ने आदेश दिया कि मंजिंदर सिंह सिरसा और ओम प्रकाश शर्मा को मार्शल द्वारा बाहर कर दिया जाए क्योंकि किराया वृद्धि के एजेंडे पर बने रहने के उनके बार बार के अनुरोध के बावजूद भाजपा विधायक मुद्दे को उठाते रहे. विधानसभा का एक दिन का विशेष सत्र किराया वृद्धि के मुद्दे पर आहूत किया गया था. इस पर भाजपा के दो अन्य विधायकों विजेंद्र गुप्ता और जगदीश प्रधान ने सदन से बहिर्गमन किया.

सिरसा ने आरोप लगाया कि सदन में गत चार अक्टूबर को अतिथि शिक्षकों पर चर्चा के दौरान भाजपा को निशाना बनाते हुए केजरीवाल द्वारा दिया गया बयान ‘अनादर करने वाला और महिलाओं को अपमानित करने वाला था.’ गोयल ने कहा कि भाजपा केवल मेट्रो किराया मुद्दे से ध्यान भटकाने का प्रयास कर रही है.

उन्होंने एक समय कहा, ‘आप दिल्ली को विनाश की ओर ले जा रहे हैं.’ गुप्ता ने चर्चा में हस्तक्षेप करते हुए जानना चाहा कि किराया वृद्धि का विरोध कर रही दिल्ली सरकार पेट्रोल और डीजल पर वैट क्यों नहीं घटा रही है जिससे शहर में तेल की कीमतें और कम हो जाएंगी. गोयल ने कहा कि वह यह सुनिश्चित करेंगे कि वैट कम हो बशर्ते केंद्र मेट्रो किराये में प्रस्तावित वृद्धि को रोके.

About the author

Related Posts

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.